गेहूँ हुआ महंगा, आने वाले दिनो मे और महंगा हो सकता है गेहूँ

0

गेहूं का भाव दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है जिससे आम लोगो की बढ़ रही है मुश्किले। केंद्र सरकार ने गेहूं की पैदावार कम होने के चलते गेहूं का एक्सपोर्ट बंद कर दिया है। सरकार केवल उन देशों को गेहूं एक्सपोर्ट कर रही है जहां इसकी ज्यादा जरूरत है। करीब 2 महीने से एक्सपोर्ट बंद होने के बावजूद गेहूं के भाव में बढ़ोतरी देखी गई। इंदौर और उज्जैन में गेहूं के भाव में बढ़ोतरी दर्ज की गई है। यहां गेहूं का भाव 2500 रूपये प्रति क्विंटल तक पहुंच गया है।

केंद्र सरकार अब 25 किलो से ज्यादा पैकिंग वाले गेहूं के बोरे पर जीएसटी नहीं लगाएगी। सरकार के इस कदम से मंडी कारोबारियों को काफी चैन मिला है। पिछले 3 दिनों में गेहूं के भाव में बंपर बढ़ोतरी दर्ज की गई। मंडी में गेहूं का भाव 2500 रूपये प्रति क्विंटल तक पहुंच चुका है।

आटे और गेहूं के दाम दर्ज की तेजी

सरकार ने गेहूं पर 5% GST लगाया था लेकिन कारोबारियों के विरोध के चलते सरकार ने गेहूं से GST हटा दिया है। GST हटने के बाद व्यापार में तेजी देखी गई है। गेहूं में करीब 150 रूपये प्रति क्विंटल की तेजी दर्ज की गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.