जो ITI सिहोरा में खुलना था,कुंडम में खुल गया,लक्ष्य जिला सिहोरा आंदोलन समिति ने लगाया उपेक्षा का आरोप

0

संवाददाता-अज्जू सोनी उमरिया पान ढीमरखेड़ा कटनी

जो ITI सिहोरा में खुलना था,कुंडम में खुल गया,लक्ष्य जिला सिहोरा आंदोलन समिति ने लगाया उपेक्षा का आरोप

  सिहोरा:- 15 मार्च 2022 को विधानसभा में जिस आई टी आई के सिहोरा में खुलने की घोषणा मंत्री नरोत्तम मिश्रा द्वारा की गई थी वह सिहोरा के स्थान पर कुंडम में खुल गया है।लक्ष्य जिला सिहोरा आंदोलन समिति ने कहा कि ITI कुंडम में भी खुलना चाहिये पर घोषणा सिहोरा की हो और खुले कुंडम में ये सिहोरा की उपेक्षा है।विदित हो सिहोरा विधायक नंदनी मरावी द्वारा विधानसभा सत्र के दौरान विधानसभा प्रश्न के माध्यम से सिहोरा विकासखंड में आई टी आई खोले जाने की बात 15 मार्च को उठाई गई थी।

सम्पूर्ण सिहोरा में आक्रोश:- सिहोरा की बजाय आई टी आई के कुंडम में खोले जाने की खबर सामने आते ही लक्ष्य जिला सिहोरा आंदोलन समिति ने इसे सिहोरा की राजनैतिक उपेक्षा का एक नया अध्याय बताया।सोशल मीडिया पर तो सिहोरावासियों ने विधायक और आई टी आई खोले जाने की बधाई देने वाले भाजपा नेताओं की खूब खबर ली।15 मार्च को जो नेता सोशल मीडिया पर आई टी आई खुलने की वाहवाही लूट रहे थे वो कहीं नजर नही आए न ही उनके द्वारा कोई वक्तव्य ही जारी किया गया।

केंद्रीय विद्यालय भी जाएगा:- विगत सात माहों से सिहोरा को जिला बनाने की मांग कर रही लक्ष्य जिला सिहोरा आंदोलन समिति के नागेंद्र कुररिया,अनिल जैन,विकास दुबे,सियोल जैन,मानस तिवारी,सुशील जैन,रामजी शुक्ला,अमित बक्शी आदि ने दावा किया कि सुनियोजित षड्यंत्र के तहत सिहोरा में खुलने के लिए प्रस्तावित केंद्रीय विद्यालय के जबलपुर में खोले जाने संबंधी पत्र आयुक्त लोक शिक्षण और सरकार को लिखा गया है।समिति शीघ्र ही उक्त पत्र को सार्वजनिक करेगी।समिति ने आरोप लगाया कि सिहोरा की लगातार उपेक्षा की जा रही है।।

Leave A Reply

Your email address will not be published.