मैं बेवफा नहीं हूं’, मंगल मेरी जान ले गया’…हाथ पर सुसाइड नोट लिखकर फांसी पर झूल गई महिला

0

मैं बेवफा नहीं हूं’, मंगल मेरी जान ले गया’…हाथ पर सुसाइड नोट लिखकर फांसी पर झूल गई महिला

राजधानी भोपाल में एक खुदकुशी का मामला सबको हैरान कर रहा है. छोला मंदिर इलाके में रहने वाली एक महिला ने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. उसके बाएं हाथ की हथेली पर एक सुसाइड नोट लिखा मिला है. जिसमें उसने परिजनों से मांफी मांगते हुए अपनी मर्जी से जान देने की बात लिखी है. इसके साथ ही पति के पासपोर्ट साइज फोटो पर ‘मैं बेवफा नहीं हूं’ लिखा है. पुलिस ने केस दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी है.

परिवार की गैरमौजूदगी में फंदे पर झूली: 

एएसआई गजेंद्र सिंह के मुताबिक, इंदू उर्फ गुड़िया साहू (35) मूलतः गैरतगंज, जिला रायसेन की रहने वाली थी. वर्ष 2019 में उसकी शादी शिवनगर फेस-3 छोला मंदिर निवासी सुभाष साहू से हुई थी. सुभाष संगीत टीचर है, जबकि इंदू भी एक स्कूल में पढ़ाती थी. गुरुवार सुबह सुभाष घर से बाहर था, जबकि उसके भाई-भाभी भी कहीं गए हुए थे. इसी बीच इंदू ने घर में फांसी लगा ली. आसपास के लोगों की नजर पड़ी तो उन्होंने शोर मचाया. इस बीच पति और परिजन भी घर पहुंच गए. उन्होंने शव को फंदे से उतारा और पुलिस तथा इंदू के मायके वालों को सूचना दी.

मर्चुरी के बाहर दोनों परिवारों में विवाद:

महिला इंदु की मौत की जानकारी मिलते ही गैरतगंज से भोपाल के हमीदिया अस्पताल पहुंचे. हमीदिया में मर्चुरी के बाहर दोनों परिवारों के बीच विवाद शुरू हो गया. मायके वालों ने दामाद पर इंदु को प्रताड़ित करने के आरोप लगाए हैं. उनका कहना था कि दामाद न तो इंदु को मायके आने देता था और ना ही फोन पर कभी बात करने देता था. फिलहाल इस मामले में किसी के बयान नहीं हो सके हैं. मामला नवविवाहिता से जुड़ा होने के कारण एसीपी निशातपुरा द्वारा जांच की जाएगी.

चरित्र को लेकर होता रहता था विवाद:

पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ में पता चला है कि ”महिला को बच्चे नहीं हो रहे थे. इसलिए वह आईवीएफ तकनीक से अपना इलाज करवाना चाहती थी. पति उसका इलाज नहीं करवा रहा था. इसके साथ ही चरित्र शंका को लेकर भी दोनों एक-दूसरे से विवाद करते रहते थे”. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पुलिस इस मामले में अगली कार्रवाई करेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.