भिंड के लाल ने तीन दिन में यूरोप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एल्ब्रस पर लहराया झंडा

0

यूरोप की सबसे ऊंची चोटी माउंट एल्ब्रस पर चढ़ना किसी के लिए भी एक दिलचस्प चुनौती है। भिंड के 30 वर्षीय प्रेमनारायण ने चार दिन और तीन रातों में चढ़ाई पूरी कर झंडा लहराया है। इस पर्वत की ऊंचाई समुद्र तल से 5642 मीटर है। अधिकतम तापमान शून्य से 35 डिग्री सेल्सियस नीचे है।

उन्होंने कोर्स पूरा होते ही शुरू कर दी प्रैक्टिस

मिडिया रिपोर्ट के मुताबिक प्रेमनारायण पुत्र रामबरन अटेर तहसील के कनेरा गांव का रहने वाला है। जो बचपन से ही खेलों का शौक था। उन्होंने 2016 में विशाखापत्तनम में आयोजित राष्ट्रीय लंबी कूद प्रतियोगिता में भाग लिया और रजत पदक जीता।2022 में उन्हें उत्तरकाशी स्थित नेहरू इंस्टीट्यूट ऑफ माउंटेन में दाखिला मिला और 28 दिन का कोर्स पूरा कर प्रैक्टिस शुरू कर दी। उसके बाद उन्होंने दार्जिलिंग के एक इंस्टीट्यूट से एडवांस्ड माउंटेन कोर्स किया।

तीन दिन में ही चढ़ गए किलिमंजारो पर्वत

वो अक्टूबर 2023 में अफ्रिका के किलिमंजारो पर्वत पर चढ़ चुके हैं। इसकी ऊंचाई समुद्र तल से 5895 मीटर है। उन्होंने बताया कि पहाड़ पर चढ़ने के लिए उनके पास सात दिन थे, लेकिन तीन दिन में ही चढ़ाई पूरी कर ली।

Leave A Reply

Your email address will not be published.