अब मध्य प्रदेश पुलिस उर्दू-फ़ारसी शब्दों के बजाय हिंदी शब्दों का करेगी इस्तेमाल

0

MP Police News : अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक पवन श्रीवास्तव ने राज्य की सभी जिला पुलिस इकाइयों को एक अनुस्मारक पत्र भेजा है और अपेक्षा की है कि सभी कार्यवाही में उर्दू-फ़ारसी शब्दों के बजाय हिंदी शब्दों का अधिकतम उपयोग किया जाए। उन्होंने लिखा कि उपयुक्त हिंदी शब्द उपलब्ध होने के बाद भी उर्दू-फ़ारसी शब्दों का प्रयोग अधिक हो रहा है, जबकि सरकार ने दो वर्ष पहले ही आशा की थी कि हिंदी शब्दों का प्रयोग अधिक होना चाहिए।

आदेश के बाद भी पुलिस ने की ढिलाई

मिडिया रिपोर्ट के मुताबिक 2022 में तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि पुलिस को उर्दू-फारसी की जगह सरल हिंदी शब्दों का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके बाद गृह विभाग ने इसे लागू करने का आदेश दिया, लेकिन ज्यादातर जगहों पर पुलिस ढिलाई बरत रही है।

ये कुछ लोकप्रिय गैर-हिन्दी शब्द

दफा – धारा

कैदखाना – बंदीगृह

जरायम – अपराध

मुचलका – बंधपत्र

खैरियत – कुशलता

ताजिरात-ए-हिंद – भारतीय दंड संहिता

जाप्ता फौजदारी – दंड प्रक्रिया संहिता

अदालत – न्यायालय

तफ्तीश – जांच

कायमी – पंजीयन

कैफियत – विवरण

इत्तिला – सूचना

इमरोजा – आज दिनांक

इमदाद – सहायता

तामील – सूचित

खून आलूदा – रक्त रंजित

गवाह – साक्षी

बयान – कथन

मसरूका – संपत्ति

संगीन – गंभीर

सजा – दोष सिद्ध

हिकमत अमली – विवेकानुसार

गोस्वारा – नक्शा

दस्तंदाजी – संज्ञेय

मर्ग – अकाल मृत्यु

मुतफार्रिक – विविध

Leave A Reply

Your email address will not be published.