Sidhi news: सीधी जिले में शिक्षा का मंदिर हुआ कलंकित, स्कूली छात्र से मैला साफ कराने वाले शिक्षक के खिलाफ थाने में मामला हुआ पंजीबद्ध

शिक्षा विभाग हुआ शर्मशार

0

Sidhi news: सीधी जिले में शिक्षा का मंदिर हुआ कलंकित, स्कूली छात्र से मैला साफ कराने वाले शिक्षक के खिलाफ थाने में मामला हुआ पंजीबद्ध। 

प्रथम न्याय न्यूज। जहां एक ओर सरकार के द्वारा शिक्षा प्रणाली में तरह-तरह के तकनीकियों का प्रयोग किया जा रहा है ताकि बच्चों को शिक्षा में दक्ष बनाया जा सके इसके लिए सतत रूप से प्रयास किये जा रहे हैं परंतु सीधी जिले में एक ऐसा नजारा सामने आया जहां शिक्षा के साथ-साथ पूरे शिक्षा विभाग को शिक्षक ने शर्मसार कर दिया और सरकार के ‘सब पढ़े सब बढ़े’ के मंसूबों पर पानी फेर दिया। यह पूरा मामला जिले के जनपद शिक्षा केंद्र सिहावल अंतर्गत बहरी थाना क्षेत्र के संकुल केंद्र पोखरा क्षेत्र के शासकीय प्राथमिक शाला पोखरा सथार टोला में स्कूली बच्चे से प्रधानाध्यापक के द्वारा मैला साफ करने का मामला प्रकाश में आया है।

गंदगी हटाने से बच्चे ने किया मना तो शिक्षक ने कर दी पिटाई

यह पूरा वाकया 1 फरवरी 2024 का है जब शासकीय प्राथमिक शाला पोखरा सथार टोला में कक्षा 2 में पढ़ने वाला छात्र बालेंद्र साहू सुबह 10:00 बजे स्कूल पहुंचा तो वहां के शिक्षक मणिराज सिंह गोंड के द्वारा  विद्यालय खोलते हुए छात्र से यह कहा गया कि कमरे में गंदगी पड़ी हुई है उसे हटा दो परंतु हटाने से छात्र ने मना कर दिया तो शिक्षक आग बबूला हो गया और बच्चे से मारपीट की। तथा कहा कि यदि नहीं फेंकोगे तो कल से स्कूल नहीं आने दूंगा।

डर की वजह से बच्चे ने स्कूल के बाहर फेंका मैला

मार खाने की वजह से बच्चा शिक्षक से डर गया वही जिस थाली में बच्चों को मध्यान भोजन परोसा जाता है वही थाली शिक्षक ने बच्चे को दिया जिसमें मैला भर कर बच्चे ने कमरे से बाहर उसे फेंक दिया। तथा वह थाली बच्चे से धुलवाई एवं उसी में बच्चे को उस दिन बने मध्यान भोजन में खिचड़ी परोस कर दिलवाया।

अपने ऊपर आपबीती को बच्चे ने परिजनों को बताया

इस पूरे घटनाक्रम को लेकर बच्चा जब छुट्टी के बाद अपने घर पहुंचा तो पूरे घटनाक्रम को लेकर अपने माता-पिता को बताया, वहीं दूसरे दिन उसके पिता रवि नंदन साहू पिता केशव साहू उम्र 32 वर्ष निवासी ग्राम पोखरा ने सरपंच कमलेंद्र सिंह एवं गांव के मनोहर सिंह प्राणपति सिंह आदि लोगों को पूरे घटनाक्रम से अवगत कराकर विद्यालय में पहुंचे तथा इस घटनाक्रम के संबंध में शिक्षक से जानकारी चाही तो उन्होंने कहा कि यदि विद्यालय का मैला बच्चे नहीं हटाएंगे तो क्या हम हटाएंगे स्कूल में कोई चपरासी नहीं है।

इन धाराओं के तहत शिक्षक के खिलाफ मामला हुआ पंजीबद्ध 

वही इस पूरे मामले को लेकर बच्चे के पिता के द्वारा बहरी थाना में शिक्षक मणिराज सिंह के खिलाफ धारा 323, 504, 75 के तहत मामला पंजीबद्ध कराया गया है। वहीं अब इस मामले ने तूल पकड़ लिया है तथा शिक्षक के खिलाफ कार्यवाही की मांग चारों तरफ उठने लगी है। अब देखना दिलचस्प होगा कि विभाग शिक्षक के खिलाफ क्या कदम उठाता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.