रीवा में वोट डालकर घर से निकला था रिश्तेदार का मतदान कराने, दूसरे दिन आम के बगीचे में मिली लाश

0

रीवा में वोट डालकर घर से निकला था रिश्तेदार का मतदान कराने, दूसरे दिन आम के बगीचे में मिली लाश

रीवा जिले के जवा थाना अंतर्गत जनकहाई कला गांव स्थित आम के बगीजे में एक युवक की लाश मिली है। सूत्रों का दावा है कि 8 जुलाई की सुबह युवक पोलिंग बूथ में वोट डालकर घर पहुंचा। इसके बाद परिजनों से कहा कि वह रिश्तेदार का मतदान कराने कहीं जा रहा है। लेकिन रात में नहीं लौटने पर परिजन परेशान हो गए। रिश्तेदारों से बातचीत की तो पता चला वह नहीं आया है। ऐसे में अनहोनी के डर से पूरी रात तलाश चलती रही।

9 जुलाई की सुबह खुद मां तलाशे हुए घर से 500 मीटर दूर स्थित बगीचे में पहुंच गई। मौके पर देखा कि आम की टहनियों के नीचे कुछ पड़ा है। पत्ते हटाए तो बेटे का शव था। शोर शराबा सुनकर ग्रामीण पहुंचे। जिन्होंने थाना पुलिस को सूचना दी। जानकारी के बाद पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण कर वैज्ञानिक साक्ष्य जुटाने के लिए एफएसएल टीम को बुलाया। प्रथम दृष्टया दबी जुबान पुलिस हत्या मानकर चल रही है। लेकिन पीएम रिपोर्ट का इंतजार है।

ये है मामला

मिली जानकारी के मुताबिक रामायण कोल पुत्र रामजी कोल (28) निवासी जनकहाई कला शुक्रवार की सुबह 10 बजे के बाद गांव स्थित मतदान केन्द्र से मतदान कर रिश्तेदार को वोट डलवाने के लिए घर से निकला था। लेकिन देर रात तक घर नहीं लौटा। काफी खोजबीन के बाद दूसरे दिन श्याम तिवारी के राजाघाट स्थित आम के बगीचे में लापता युवक की मां ने लाश देखी। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि गला घोटकर हत्या की गई है।

गले में चोट के निशान

फिर साक्ष्य मिटाने के लिए लाश के उपर आम की टहनियां फेंक दी गई थी। जिससे जल्दी लाश न दिखाई दे। फिलहाल पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। जवा थाना प्रभारी निरीक्षक तेज बहादुर सिंह ने कहा कि मर्ग कायम कर लिया है। पूरा मामला संदिग्ध है। गले में चोट के निशान दिखे है। ऐसे में पीएम रिपोर्ट से वस्तु स्थितियों का पता चलेगा। वहीं दूसरी तरफ मृतक के शव को पीएम उपरांत परिजनों को सौंप दिया गया है।

 

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.