मध्य प्रदेश की लाड़ली बहनों के लिए खुशखबरी, अब 10 मार्च से पहले आयेगी किस्त, पर इनको नहीं मिलेगा लाभ 

1

 

Ladli bahana Yojana 10th installment: एमपी में एक करोड़ 29 लाख लाडली बहने है। मध्य प्रदेश सरकार ने इन्हे हर महीने 10 तारीख को योजना की किस्त देने का ऐलान किया है। लेकिन, इस बार होली और शिवरात्रि के वजह से मुख्यमंत्री मोहन यादव सरकार ने 1 मार्च को राशि देने का निर्णय लिया है 

छिंदवाड़ा दौरे पर मोहन यादव

छिंदवाड़ा दौरे के समय मुख्यमंत्री मोहन यादव ने बड़ी घोषणा की हर बार मध्य प्रदेश में 10 तारीख को लाडली बहनों की किस्त जारी होती थी ,लेकिन इस बार मोहन यादव ने ऐलान किया है की लाडली बहनों के खाते में 1 मार्च को ही राशि आ जाएगी मोहन यादव ने 1 मार्च को सिंगल क्लिक में यह राशि ट्रांसफर करेंगे। जल्द किस्त आने की वजह से महिलाएं पर्व त्यौहार की तैयारी करेंगे

किसानों के लिए यह खेती किसी ATM से कम नहीं, कम लागत से बंपर मुनाफा, सिर्फ 30 दिन में फसल होती है तैयार

दरअसल, मार्च महीने में शिवरात्रि और होली है कई बार समय से पैसे नहीं मिलते जिसके वजह से आर्थिक रूप से कमजोर महिलाएं त्यौहार नहीं मना पाती ऐसे में मोहन यादव सरकार ने निर्णय लिया है कि बार मध्य प्रदेश की महिलाओं को एक मार्च को ही उनकी राशि दे दी जाएगी. 1 मार्च को राशि मिलने के बाद महिलाएं शिवरात्रि और होली का त्यौहार मना सकेंगे

मध्य प्रदेश में लाडली बहनों की संख्या 1.29 करोड़ है सरकार हर महीने इन महिलाओं के खाते में 1250 रुपए देती है जब इस योजना की शुरुआत हुई इसके बाद हर महीने की 10 तारीख को महिलाओं को राशि दी जाती थी पर इस बार एक मार्च को ही राशि देने का ऐलान किया गया है

सुकन्या समृद्धि योजना से बेटी बनेगी लखपति, एक बार खोले खाता 21 वर्ष बाद लाखों की होगी पूंजी, कैसे करें आवेदन 

ऐसा माना जा रहा है कि सरकार इसलिए भी जल्द पैसा दे रही है क्योंकि मार्च से पहले सप्ताह में आचार संहिता की घोषणा भी हो सकती है आचार संहिता लागू होने के बाद तकनीकी समस्या ना आए इसलिए सरकार पहले ही राशि महिलाओं के खाते में डाल रही है विधानसभा चुनाव में महिलाओं ने भाजपा सरकार बनाने में एक बड़ी भूमिका निभाई थी

इन बहनों को नहीं मिलेगी किस्त 

लाडली बहना योजना की दसवीं किस्त 1 मार्च को जारी होने जा रही है। लेकिन, मध्य प्रदेश में ऐसी कई महिलाएं हैं जिन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा जिसका मुख्य कारण बढ़ती उम्र है। क्योंकि मध्य प्रदेश में ऐसी कई महिलाएं हैं जिनकी उम्र 21 वर्ष से 60 वर्ष अधिक हो चुकी है। ऐसे में इन लाडली बहनों को मध्य प्रदेश सरकार के द्वारा चलाई जा रही योजना का लाभ नहीं मिलेगा

Leave A Reply

Your email address will not be published.