मनी एक्सचेंजर के पास से 71 लाख 69 हजार 473 रूपये जब्त, TI समेत पांच पुलिसकर्मी सस्पेंड

0

MP News : भोपाल के अशोका गार्डन स्थित एक मकान में गुरुवार रात पुलिस ने छापा मारा तो करीब 32 लाख कटे-फटे, पुराने और नए नोट बरामद हुए। मिडिया रिपोर्ट के मुताबिक प्रारंभिक जांच में पता चला कि युवक मनी एक्सचेंज का काम करता था। DCP जोन-1 प्रियंका शुक्ला ने कहा कि ADCP जोन-1 रश्मी अग्रवाल दुबे के नेतृत्व में एक टीम अन्य एंगल से भी मामले की जांच कर रही है। रविवार-सोमवार की आधी रात टीम ने बैरागढ़ में कारोबारी के दूसरे ठिकाने से नोटों से भरे 6 बैग और बरामद किए। जिसमें से 40 लाख 11 हजार चार सौ रूपये और बरामद हुआ। जिस घर से पैसे बरामद हुए हैं वह कारोबारी कैलाश खत्री की बहन का है। इस प्रकार कुल बरामद राशि 71 लाख 69 हजार 473 रूपये है।

प्रभारी सस्पेंड और चार पुलिसकर्मी लाइन अटैच

शुक्रवार को इस कदम के बाद अशोका गार्डन पुलिस स्टेशन की तत्कालीन प्रभारी वंदना लाकड़ा को बर्खास्त कर दिया गया और उसके बाद शनिवार को इस मामले में थाने के चार और पुलिसकर्मियों को लाइन अटैच कर दिया गया। आरोप यह था कि उन्होंने अधिकारियों को जानकारी दिए बगैर कार्रवाई की। इसके बाद नोटों से भरा बैग अज्ञात जगह ले जाने की शिकायत की गई। वहीं कार्रवाई के बाद कैलाश खत्री का भाई अनिल खत्री नोटों से भरा बैग लेकर भाग गया। इसकी पुष्टि सीसीटीवी फुटेज से हुई है। जिससे पुलिस को पता चला कि अनिल बैग को पहले पंजाबी बाग के एक घर में ले गया। इसके बाद उसने बैग बैरागढ़ में अपनी बहन के घर में छिपा दिए। पुलिस ने अब ये बैग बरामद कर लिए हैं। उसने पुलिस को बताया कि वह 18 साल से यही काम कर रहा है।

क्या है पूरा मामला?

कैलाश खत्री (38) अपनी पत्नी और बच्चों के साथ पंथ नगर अशोक गार्डन स्थित अपने मकान में रहते हैं। गुप्त सूचना के आधार पर गुरुवार को उनके घर पर छापेमारी की गयी। जहां से 31 लाख 87 हजार 73 रूपये मिले। इसमें पांच, दस, बीस, पचास और एक सौ रुपए के पुराने और नए नोट हैं। उसने पुलिस को बताया कि वह 2006 से मनी एक्सचेंज का काम कर रहा है। जो एक लाख रुपये के बदले 75 हजार रुपये वापस करता था। RBI ने 2015 में PNB को पत्र लिखकर कैलाश को पुराने नोट बैंक में जमा करने की इजाजत दे दी। उन्होंने कहा कि बैंक ने कुछ समय के लिए इन नोटों को स्वीकार करना बंद कर दिया। जिसके बाद से इन्हें मुंबई और आगरा में बेचना शुरू कर दिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.