नर्सिंग घोटाले को लेकर CM का बड़ा फैसला, एंट्रेंस एग्जाम के बाद मिलेगा प्रवेश

0

MP Nursing Scam : मध्य प्रदेश में नर्सिंग कॉलेज घोटाला सुर्खियों में है। इस बड़े घोटाले को लेकर मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव भी एक्शन मोड में आकर बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने कहा कि नर्सिंग कॉलेज घोटाले में शामिल सभी अधिकारियों और कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त की जाएंगी। नर्सिंग शिक्षण संस्थानों में अनियमितता के सभी मामलों में सख्त कार्रवाई करने के दिए और साथ ही तत्कालीन रजिस्ट्रार और नर्सिंग काउंसिल के सचिव पर भी कार्रवाई होगी।

नर्सिंग में प्रवेश के लिए होगी एंट्रेंस एग्जाम

नर्सिंग कॉलेज घोटाला सामने आने के बाद अब इसके लिए अलग से एंट्रेंस एग्जाम आयोजित की जाएगी। नर्सिंग विद्यार्थियों के लिए राज्य स्तरीय परीक्षा इंजीनियरिंग-मेडिकल की तर्ज पर होगी। केंद्र के नर्सिंग एक्ट के मुताबिक राज्य में एक आयोग का गठन किया जाएगा, जो राज्य में नर्सिंग कॉलेजों के लिए एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करेगा। राष्ट्रीय आयोग नर्सिंग संस्थानों को मान्यता देगा।

नर्सिंग घोटाले में रिश्वत लेते चार अधिकारी धराए

नर्सिंग घोटाले ने उस वक्त फिर तूल पकड़ लिया जब दिल्ली से आई सीबीआई टीम ने नर्सिंग घोटाले की जांच कर रहे अधिकारी को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया। हम आपको बता दें कि नर्सिंग घोटाले की जांच कर रहे अधिकारी रिश्वत लेते पकड़े गए थे, जिसके बाद 4 अधिकारियों को गिरफ्तार कर लिया गया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.