मधुमक्खियों के काटने से सौ से ज्यादा लोग घायल, अस्पताल में इलाज जारी

0

MP News : बैतूल जिले में मधुमक्खियों के काटने से सौ से ज्यादा लोग घायल हो गए. मिडिया रिपोर्ट के मुताबिक बैतूल जिले के मुलताई क्षेत्र के मंदिर में पूजा करने के बाद बकरे और मुर्गों की बलि देकर भोजन तैयार किया जाता है और फिर सभी लोग खाते हैं। बुधवार को खैरवानी, पारडसिंगा एवं देवरी में विभिन्न शिखर सम्मेलन कार्यक्रम आयोजित किये गये। तभी खाना बनाने के लिए जल रहे चूल्हे से निकले धुएं के कारण खेत में पेड़ों की छांव में बैठी मधुमक्खियां उड़ने लगीं और वहां मौजूद लोगों पर हमला कर दिया। जिससे तीनों जगह आए करीब सौ लोग घायल हो गए। इनमें से करीब आधा सैकड़ा लोग इलाज के लिए शहर के सरकारी अस्पताल पहुंचे हैं।

पारडसिंगा में 70 से अधिक लोग घायल

पारडसिंगा गांव में स्कूल के पीछे मैदान में स्थित देवस्थान में चोटी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जहां चोटी कार्यक्रम हो रहा था वहां मधुमक्खियों ने हमला कर दिया। जिसमें आयुष अनिल, लक्ष्मण हरदयाल, अनिता पन्नालाल समेत नागपुर, पाथाखेड़ा सारणी समेत अन्य गांवों के करीब 70 लोग घायल हो गए।

खैरवानी में एक दर्जन से अधिक घायल

खैरवानी गांव के खेत में आयोजित चोटी कार्यक्रम के दौरान मधुमक्खियों के हमले में एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गये। जबकि मनीराम रखनपत, दुर्गा नदंराम, राजकिशोर झनकलाल, अनिता ईश्वर, लालू विठोबा, सरस्वती गुलाबराव व अन्य घायल हो गए।

देउरी में मधुमक्खियों के हमले से कई घायल

देउरी गांव में भी फार्म समिट कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसी दौरान पूजा करने आए ग्रामीणों पर मधुमक्खियों ने हमला कर दिया। इस बीच मधुमक्खियों ने दीपांशु पिता विजेश (5), हर्षित पिता कमलेश (9), प्रतीक पिता राजेश (18), रिया पिता विकास (9), विशाल पिता अशोक (19), चिरोंजीलाल (65), रामकली पति चिरोंजी (60), कमलेश पिता चिरौंजी (42), पयकी पति बाबू (70), सुधा पति देवाजी (50), करण पिता सुरेश (15), अशोक पिता कन्हैया (40) सभी निवासी ग्राम देवरी को मधुमक्खियो ने काट दिया। जो कि अपना उपचार कराने नगर के सरकारी अस्पताल पहुचे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.