Ranji Trophy: MP ने जीता रणजी ट्रॉफी 2022 का खिताब, CM शिवराज ने इस अंदाज में दी बधाई

0

Ranji Trophy: MP ने जीता रणजी ट्रॉफी 2022 का खिताब, CM शिवराज ने इस अंदाज में दी बधाई

मध्यप्रदेश की टीम 23 साल बाद रणजी ट्रॉफी में इतिहास रचा है. जी हां पूरे 23 साल बाद एमपी की टीम ने फाईनल मैच में महाराष्ट्र को हराकर जीत का खिताब खुद के नाम किया है. दरअसल 1999 में टीम चंद्रकांत पंडित की कप्तानी में पहली बार रणजी के फाइनल में पहुंची थी, हालांकि उस समय कर्नाटक के खिलाफ खेले गए फाइनल मुकाबले में एमपी को हार का सामना करना पड़ा था. फिलहाल अब चंद्रकांत पंडित ही टीम के कोच हैं, उन्हीं की कोचिंग में ही टीम इस बार 22 जून से मुंबई के खिलाफ खिताबी मुकाबले में उतरी और आज यानी 26 जून को जीत का खिताब अपने नाम किया. अब टीम के सदस्यों की हौसलाअफजाई करते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने एक ट्वीट शेयर किया है.

88 साल बाद रचा इतिहास:

रणजी ट्रॉफी के 88 सालों के इतिहास में यह पहला मौका है जब मध्यप्रदेश क्रिकेट टीम ने इस घरेलू टूर्नामेंट को जीता है. फाइनल मैच में मुंबई ने पहले बैटिंग करते हुए 10 विकेट के नुकसान पर 374 रन बनाए, मुंबई की ओर से सरफराज खान ने सर्वाधिक 134 रन बनाए. इसके जवाब में मध्यप्रदेश ने चौथे दिन की सुबह 3 विकेट खोकर 400 रन बनाए लिए हैं, एमपी की ओर से यश दुबे ने 133 जबकि शुभम शर्मा ने 116 रन बनाए हैं. वहीं रजत पाटीदार 85 रन बनाकर खेल रहे हैं, इस तरह पहली पारी में मध्यप्रदेश की बढ़त 26 रनों की हो गई है. फिलहाल एमपी ने मुंबई की टीम को 6 विकेट से हराया.

सीएम ने दी बधाई: 

टीम के सदस्यों की हौसलाअफजाई करते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, “रणजी ट्रॉफी के फाइनल मैच में अपने अद्भुत और अद्वितीय खेल से मध्यप्रदेश की टीम ने न केवल शानदार जीत प्राप्त की है, बल्कि लोगों का हृदय भी जीत लिया. इस अभूतपूर्व जीत के लिए मध्यप्रदेश की टीम को हार्दिक बधाई देता हूं, आपकी जीत का यह सिलसिला अविराम चलता रहे, शुभकामनाएं.”

राष्ट्रमंडल खेल में भारतीय टीम की अगुवाई करेंगी सविता, उपकप्तान होंगी दीप ग्रेस
आदित्य श्रीवास्तव की कप्तानी में जीत की हासिल:

मध्य प्रदेश ने एलीट ग्रुप-A में गुजरात और मेघालय के खिलाफ जीत दर्ज की थी, इसके अलावा मध्य प्रदेश ने केरल के खिलाफ ड्रॉ खेलकर नॉकऑउट स्टेज में अपनी जगह सुनिश्चित की थी. क्वार्टर फाइनल में मध्य प्रदेश ने पंजाब को 10 विकेट से हराकर सेमीफाइनल में अपना स्थान पक्का किया. जिसके बाद अब फाइनल में मुंबई को 6 विकेट से हराकर जीत सुनिश्चित की. बता दें कि मध्य प्रदेश अब तक रणजी ट्रॉफी का खिताब नहीं जीत सका था, ऐसे में आदित्य श्रीवास्तव की कप्तानी में इस बार टीम कोई कसर नहीं छोड़ी और जीत का तमगा अपने नाम किया.

Leave A Reply

Your email address will not be published.