बोरवेल में फंसे मयंक की थम गई सांसे, पीएम के लिए की जा रही तैयारी, इन खबरों में क्या है सच्चाई

0

रीवा में 6 साल के मासूम बच्चे को अभी तक बोरवेल से बाहर नहीं निकाला जा सका है लगातार राहत कार्य जारी है, एनडीआरएफ और एसडीआरएफटी रेस्क्यू कर रहे हैं दोनों तरफ अंतहीन बोरवेल सुरंगों के जरिए बच्चे तक पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं। शुक्रवार दोपहर करीब साढ़े तीन बजे मयंक बोरवेल के गड्ढे में फंस गया।  कठोर मिट्टी के कारण मशीनों को हाथ से चलाया जाता रहा।  दी गई जानकारी के मुताबिक मयंक 70 फीट गड्ढे में फंसा हुआ है, लेकिन मयंक के बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता, दादा ने कहा हमें भगवान पर भरोसा है। फिलहाल मयंक का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है, अभी तक कुछ भी जानकारी सामने नहीं आई है, 

रीवा जिले के बोरवेल को लेकर सीएम मोहन यादव का कलेक्टर के लिए निर्देश, अब नहीं चल पाएंगे ऐसे बोर

आज सुबह करीब 6 बजे बोरवेल की ड्रिलिंग के दौरान पानी निकलने से कुछ और मशीनें खराब हो गईं, लेकिन पानी और कीचड़ के कारण काम दोबारा शुरू हो गया

सोशल मीडिया पर ऐसी चर्चाएं की जा रही है कि मयंक की मौत हो चुकी है और पीएम के लिए तैयारी की जा रही है पर आपको बता दें अभी तक इन बातों की पुष्टि नहीं हो पाई है मयंक का रेस्क्यू ऑपरेशन लगातार जारी है प्रशासन पूरी तरह से तीसरे दिन मस्कत कर रहा है, अभी इसमें कितना वक्त लग सकता यह किसी को नहीं पता हालांकि 40 घंटे तक मयंक के जीवित रहने की कोई उम्मीद नजर नहीं आ रही ,हालांकि जब तक उम्मीद है तब तक सांस बरकरार है 

Leave A Reply

Your email address will not be published.