MP News: खुशखबरी! मऊगंज,सीधी सहित 7 जिलों को मिली नए कलेक्ट्रेट भवन की सौगात यहां पढ़ें पूरी खबर

0

 

 

 

MP News: मध्य प्रदेश के सात जिलों में नए कलेक्ट भवन का निर्माण किया जाएगा इनमें भोपाल शिवपुरी शिवानी सिद्धि सहित नए जिले बनाए गए मऊगंज मैहर पांढुर्णा शामिल है आपको बता दे यहां पर 1 साल से अधिक समय से कलेक्ट्रेट भवन बनाने के लिए प्रक्रिया चालू है कुछ जिलों में प्रस्ताव बनाकर लगभग तैयार हो चुका है लेकिन कुछ जिले ऐसे हैं जहां पर जमीनी स्तर से अभी तक कार्य शुरू नहीं किया गया है जहां जल्द ही शुरू किया जाएगा।

Mahindra Thar: लोगों का अपना दीवाना बनाने नए अवतार में आई 5Door Mahindra Thar मिलेंगे यह शानदार फीचर्स और कीमत!

प्राप्त जानकारी के अनुसार निर्माण के लिए जगह मिलने की प्रक्रिया पूरे होती ही 3 वर्ष के अंदर पी मोड पर नए भवन बनाए जाने की योजना जारी है इसमें मध्य प्रदेश सरकार निर्माण एजेंसी को जमीन उपलब्ध कराएगी निर्माण एजेंसी इन भूखंडों पर प्लाट काटकर अथवा बहु मंजिला भवन बनाकर भेज सकेगी सभी कलेक्ट भवन का आकार 10000 वर्ग मीटर का होगा।

पास में ही बनेंगे कर्मचारी आवास

आपको बता दें इन कलेक्टर कार्यालय के पास ही अधिकारियों व कर्मचारियों के आवास भी बनाए जाएंगे सभी आवास कम से कम दो-तीन मंजिला होंगे इसमें कम लागत और कम जगह में ज्यादा से ज्यादा आवाज बनाए जा सके जिसे अधिकारियों को किसी भी समस्याओं का सामना न करना पड़े राजधानी भोपाल को छोड़कर अन्य जिलों में कलेक्टर कार्यालय के पास में ही बांग्ला बनाया जाएगा।

नए जिलों में यह होगी कार्ययोजना

नवगती जिले मऊगंज में 5 से 7 हेक्टेयर शासकीय भूखंड को चिन्हित कर दिया गया है इस पूरे प्रोजेक्ट में लगभग 50 करोड रुपए से अधिक की राशि लग सकती है।

मैहर में शहर से 7 किलोमीटर दूर जमीन मिल रही है जिससे प्रस्ताव को तात्कालिक मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने निरस्त कर दिया है उनका तर्क था कि शहर से दूर कलेक्टर कार्यालय भवन बनाए जाने से लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

पांढुर्णा में अभी भूखंड चिह्नित नहीं हो पाया है। अधिकारियों का मानना यह है कि वहां भूमि चिह्नित करने के साथ ही उसका आवंटन भी किया जा सकेगा।

भोपाल, सिवनी, शिवपुरी और सीधी जिलों में कलेक्टर कार्यालय रीडेंसीफिकेशन योजना के तहत बनेंगे भोपाल के लिए प्रस्ताव बनकर तैयार हो चुका है सीधी में पुराने कलेक्टर कार्यालय के बगल में ही नया कार्यालय भवन बनेगा, जबकि सिवनी, शिवपुरी में मौजूदा भवन की जमीन पर ही नया कार्यालय बनेगा।

चार जिलों में बने कलेक्ट्रेट भवन पुराने हो गए हैं और यहां पर जगह भी कम पड़ती है इसके अलावा नये तीन जिलों में इन भवनों को बनाना ही था लोगों की सुविधाओं के लिए भी इन्हें विकसित किया जा रहा है भोपाल की बात करें तो अभी नर्मदापुरम रोड, अवधपुरी, साकेत नगर, अयोध्या बायपास, कोलार रोड, बावड़िया कलां, अरेरा कालोनी सहित कई क्षेत्रों के लोगों को पुराना आरटीओ और कलेक्ट्रेट जाना पड़ता है।

Sapna Choudhary Video: डांसर सपना चौधरी ने किया ऐसा डांस युवाओं के उड़े होश स्टेज पर हुई नोटों की बारिश

Leave A Reply

Your email address will not be published.